Posted On by &filed under Allahabad High Court, High Court.


Allahabad High Court
Surendra Kumar Mittal vs State Of U.P. & Others on 9 August, 2010


वयव. पकीणर यािचका सं० ११२४वषर २०१०
सुरेनद कुमार िमतल पित राजय उतर पदेश एवं अनय

माननीय यतीनद िसंह, नयायमूितर
माननीय राजेस कुमार,नयायमूितर
याची ने यह यािचका उतर पदेश मोटर गाडी कराधान िनयमावली १९९८ के
अनतगरत पािरत आदेश िदनांक २२-१०-२००९ के िवरद पसतुत िकया है। िजसके
दारा याची से मागर कर एवं अितिरक कर की वसूली हेतु आदेिशत िकया गया है।

हमने याची के अिधवका तथा सथायी अिधवका को सुना।
याची के अिधवका का कथन है िक;

याची ने िववािदत गाडी मेससर टाटा मोटर फाइनेस िलिमटेड (िवपकी
संखया-५) दारा फाइनेस िकये जाने के उपरानत खरीदी थी।
पैसा न जमा िकये जाने के कारण यह गाडी िदनांक १७-११-२००६ को
उनहोने अपने कबजे मे ले िलया है।

उक ितिथ से यह गाडी िवपकी संखया-५ के कबजे मे है।
याची उसके बाद से िवपकी संखया-५ को टर क का कजर देने की अवासथा मे
नही है।

याची को िबना नोिटस िदए हु ए वसूली की कायरवाही का आदेश पािरत िकया
गया है।

केस की पिरिसथितयो को देखते हु ए, याची, कर अिधकारी/सहायक मणडल
टर ांसपोटर अिधकारी सोनभद ( िवपक पक २) के समक -२ सपाह के अनदर
पतयावेदन पसतुत करे। यिद इस तरह का कोई पतयावेदन पसतुत िकया जाता है तो
िवपक पक २ यिद समभव हो तो पतयावेदन का िनसतारण -४ सपाह के अनदर एक
तकरसंगत आदेश दारा करेगे। याची पतयावेदन के साथ इस आदेश की पमािणत
पितिलिप, आवशयक कागजात अपना पता िलखा व िटकट लगा िलफाफा भी संलग
करेगे तथा िवपक पक २ अपना िनणरय लेने के पशचात तदनुसार याची को सूिचत
करेगे।

यहां पर यह कहना उिचत होगा िक िवपकी संखया-२ कोई भी आदेश पािरत
करने से पूवर िवपकी संखया-५ एवं -६ को भी सूिचत करेगे। यहां यह भी कहना
उिचत होगा िक -६ सपाह या पतयावेदन के िनसतारण तक जो भी पहले हो तब तक
याची से इस समबंध मे कोई वसूली नही की जायेगी।

इसी िटपपणी के साथ यह यािचका अंितम रप से िनसतािरत की जाती है।

िदनांक ९-८-२०१०,


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

* Copy This Password *

* Type Or Paste Password Here *

8 queries in 0.139 seconds.